ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
सेनेटरी पैड बनाने के साथ साथ समाज कि बुराइयों से भी लड़ने का प्रशिक्षण दे रही है आईआरएस अमनप्रीत
July 21, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • उत्तर प्रदेश

नोयडा: एक तरफ जहाँ पूरा देश कोरोना के कहर के आगे बेबस दिखाई देता हुआ नजर आ रहा है, वहीँ देश की कुछ महिलाएं ऐसे कठिन समय में भी पटल पर आगे आकर देश की बेटियों को जीवन की कठिनाइयों से संघर्ष करने का प्रशिक्षण दे रही हैं। उत्तर प्रदेश पुलिस फैमिली वेलफेयर एसोसिएशन ने हाल ही में नॉएडा पुलिस लाइन में सेनेटरी पैड बनाने की कार्यशाला सखी का सफल आयोजन किया। सेनेटरी पैड बनाने की इस कार्यशाला सखी का उद्घाटन आकांशा सिंह पत्नी पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह द्वारा किया गया। तो वहीँ पैड्स बनाने कि मशीन श्री राम कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स एलुमनाई एसोसिएशन द्वारा उपलब्ध कराई गई। कार्यशाला का मुख्य रूप से आकर्षण का केंद्र रही इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की जॉइंट कमिश्नर अमनप्रीत जी से खास मुलाकात पर कार्यशाला के उद्देश्य पूछा गया तो उन्होंने कहाँ की इस कार्यशाला का मुख्या रूप से उद्देश्य था कि समाज में एक उदहारण जाएं कि इस देश कि सभी नारी आत्मनिर्भर हैं। प्रशिक्षण के दौरान वहां मौजूद सभी औरतों और बच्चियों को होने वाले मासिक धर्म के बारे में समझाया गया और साथ ही साथ उन्हें उस दौरान खुद का ख्याल रखने के लिए उपाय भी बताएं गए। प्रशिक्षण के उपरान्त पुलिस परिवार कि महिलाओं को सेनेटरी पैड बनाने का कार्य बड़े पैमाने पर किया जाएगा। इससे महिलाओं के लिए रोजगार के नए अवसर भी पैदा होंगे। पुलिस परिवार कि महिलाएं और बच्चियों द्वारा बनाये गए इन सेनेटरी पैड्स को पुलिस परिवारों के अलावा अन्य जरूरतमंद संस्थाओं को भी बाज़ार से कम मूल्य पर दिए जाएंगे। अमनप्रीत जी ने बताया कि डब्लूएचओ कि रिपोर्ट के अनुसार महिलाओं में इन्फेक्शन और कैंसर कि समस्या का कारण मासिक धर्म के दौरान साफ़ सुथरे पैड का प्रयोग न कारण बताया गया। इस समस्या को ही आधार बनाकर अमनप्रीत जी और संगिनी सहेली एनजीओ कि संचालिका प्रियल भारद्वाज ने कमर कस ली हैं कि देश कि सभी महिलयों को होने वाले मासिक धर्म के बारे में जानकारी देंगे और उन्हें सेनेटरी पैड्स मुहैया कराएंगे। क्योंकि उनका मानना हैं कि अभी भी देश के कई हिस्से ऐसे हैं जहां महिलाओं को इस बारे में जागरूक करना बेहद जरुरी है। कार्यशाला के इस मौके अवसर पर डॉक्टर रेनू अग्रवाल सीएमएस सिविल अस्पताल नॉएडा, अमनप्रीत जॉइंट कमिश्नर इनकम टैक्स, प्रियल भारद्वाज संचालिका एनजीओ संगिनी सहेली, पुलिस उपायुक्त मिनाक्षी और सहायक पुलिस आयुक्त श्रद्धा पांडेय ने उपस्थित रहकर महिलाओं और बच्चियों को शुभकामनाओं के साथ साथ जीवन में आने वाले संघर्षो से लड़ने का हौसला दिया।