ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
फरीदाबाद के गेस्ट हाउस में विकास दूबे के छिपने की सूचना पर पुलिस छापे मारी मे दो गिरफ्तार,विकास दूबे हो गया फरार
July 7, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • उत्तर प्रदेश

फरीदाबाद, कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के आरोपित विकास दुबे के साथियों संग छिपे होने की सूचना पर फरीदाबाद क्राइम ब्रांच की टीमों ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर बडख़ल मोड़ के पास स्थित ओयो गेस्ट हाउस घेर लिया। छापेमारी के दौरान पुलिस को गेस्ट हाउस में विकास या उसका साथी नहीं मिला। पुलिस द्वारा दो स्थानीय लोगों को हिरासत में लिए जाने की सूचना है। पुलिस ने गेस्ट हाउस की सीसीटीवी फुटेज भी कब्जे में ली है। बताया जा रहा है कि फुटेज में एक व्यक्ति का डीलडौल विकास दुबे से मिलता जुलता है। मामला बहुचर्चित और संवेदनशील होने के कारण पुलिस अधिकारी अभी किसी भी तथ्य की पुष्टि नहीं कर रहे हैं। 

गेस्‍ट हाउस में छिपे होने की आशंका पर हुई छापेमारी

सूत्रों के मुताबिक फरीदाबाद पुलिस को विकास दुबे और उसके कुछ साथियों के यहां गेस्ट हाउस में छिपे होने की सूचना मिली थी। पुलिस को बताया गया था कि आरोपित यहां स्थानीय लोगों के पहचान पत्रों पर रुके हुए हैं। इसके बाद क्राइम ब्रांच की सभी टीमों ने संयुक्त रूप से छापेमारी की। गेस्ट हाउस के प्रत्येक कमरे को खोलकर देखा गया, पर संचालकों ने विकास या उसके साथियों के आने से इनकार किया। पुलिस ने रजिस्टर चेक किया तो उसमें दो पहचान पत्रों पर संदेह हुआ। पुलिस ने उन युवकों को हिरासत में ले लिया। फरीदाबाद से बाहर के रास्तों पर नाकाबंदी कर वाहनों की जांच भी की गई।

देर तक चलती रही छापेमारी

देर शाम तक पुलिस की टीमें विकास दुबे और उसके साथियों की तलाश में छापेमारी व छानबीन करती रही। यूपी पुलिस से भी पुलिस ने संपर्क साधा। भले ही अधिकारी पुष्टि नहीं कर रहे मगर सूत्रों ने बताया है कि होटल में तीन से चार संदिग्ध लोग रुके थे। पुलिस की छापेमारी से पहले ही वे गेस्ट हाउस से निकल गए। ओल्ड फरीदाबाद थाना प्रभारी अर्जुन देव का कहना है कि शुरुआत में उन्हें गेस्ट हाउस में फायरिंग की सूचना मिली थी, जिसके बाद टीम मौके पर पहुंची। इससे अधिक जानकारी देने से उन्होंने इनकार कर दिया।