ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
पतंजलि के एमडी आचार्य बालकृष्ण ने किया एलान,पतंजलि बना चुकी है कोरोना वायरस की दवा, 80%मरीज़ हुए ठीक
June 11, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • राष्ट्रीय

नई दिल्ली : एक तरफ जहाँ कोरोना महामारी का कहर पूरी दुनिया में फैला हुआ है और तमाम देश इस महामारी से बचाव के लिए वैक्सीन इज़ाद करने की तैयारी में जुटे हैं, वहीं पतंजलि के एमडी आचार्य बालकृष्ण ने दावा किया है कि पतंजलि ने कोरोना वायरस की दवाई तैयार कर ली है। आचार्य बालकृष्ण ने ये भी कहा है कि पतंजलि द्वारा तैयार की गई दवाई से 80 फीसदी से अधिक कोरोना मरीज़ ठीक हो चुके हैं।

आचार्य बालकृष्ण का दावा – दवाई से 80 फीसदी मरीज़ हुए ठीक

आचार्य बालकृष्ण के मुताबिक जैसे ही कोरोना संक्रमण के मामले चीन के बाद दुनिया के अन्य देशों में सामने आये, उन्होंने अपने संस्थान के हर विभाग को सिर्फ और सिर्फ कोरोना के इलाज के लिए इस्तेमाल होने वाली दवा पर काम करने में लगा दिया। बालकृष्ण ने कहा कि संस्थान के कर्मचारियों के मेहनत रंग लाई और पतंजलि ने कोरोना वायरस से बचाव की दवाई विकसित कर ली है। उन्होंने दावा किया कि पतंजलि द्वारा बनाये गए दवाई से 80 फीसदी से अधिक कोरोना मरीज़ ठीक हो चुके हैं।

शास्त्रों, वेदों के अध्ययन के बाद विज्ञान के फॉर्मूले से तैयार हुई दवाई : आचार्य बालकृष्ण

बालकृष्ण ने कहा कि अलग-अलग जगह पर कई कोरोना पॉजिटिव मरीजों को यह दवा दी गई, जिसमें से 80 फीसदी लोग ठीक हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि शास्त्रों, वेदों के अध्ययन के बाद विज्ञान के फॉर्मूले से इस दवाई को तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि पतंजलि के वैज्ञानिकों ने दिन-रात मेहनत कर इस दवाई को तैयार किया है, जो कोरोना मरीज़ों को ठीक कर पाने में सक्षम है।

वैज्ञानिकों को अब तक नहीं मिली है सफलता, जारी है शोध

बता दें कि भारत समेत दुनिया के कई देशों में कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सीन तैयार करने को लेकर शोध चल रहे हैं। वैज्ञानिकों का दावा है कि अगले साल तक कोरोना की वैक्सीन बन कर तैयार हो जाएगी। हालाँकि कई कंपनियों ने वैक्सीन बनाने का भी दावा किया है, लेकिन इस मामले में ज्यादा सफलता हाथ नहीं लगी है। वहीं अब पतंजलि ने भी कोरोना की दवाई बनाने का दावा किया है। देखना ये है कि पतंजलि के दावों में कितना दम है।