ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
महंगाई का अर्थशास्त्र भला आम आदमी क्या जाने -- कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
August 4, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • हास्य व्यंग/साहित्य

महंगाई से परेशान जनजीवन क्या नहीं करता ! 

कोरोना काल में तो स्थिति और भी नाज़ुक है !! 

*************************

क्या फर्क पड़ता है महंगाई बढ़ने से अमीर जादों को ! 

गरीबों का निवाला डकारने में मज़ा आता है उनको !! 

*************************

महंगाई बढ़ने के नाम पर कुछ के घर में खुशियां आती हैं ! 

कुछ ऐसे भी हैं जिनके घर का चूल्हा ठंडा पड़ जाता है !! 

*************************

आओ कुछ नया जरिया बनाएं व्यापार को बढ़ाने का ! 

ज़िंदगी जीना है तो महंगाई से कब तक मुंह मोड़ते रहेंगे !! 

*************************

महंगाई की गणित शहर के सेठ साहूकारों से पूछिए ! 

महंगाई का अर्थशास्त्र भला आम आदमी क्या जाने !!

*************************

शहर के होटल की थालियों की कीमत भ्रष्ट बाबू से पूछिए ! 

महंगाई के बोझ से आम आदमी के होटल का शौक मर जाता है !!

************* तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु कवि व मंच संचालक अंबेडकरनगर उत्तर प्रदेश !