ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
कानपुर काउंटर में नया खुलासा- CO देवेंद्र मिश्रा और SO विनय तिवारी के बीच चल रही थी अनबन
July 6, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • उत्तर प्रदेश

कानपुर एनकाउंटर मामले की जांच में गुजरते समय के साथ नए-नए खुलासे हो रहे हैं. इसी सिलसिले में CO देवेंद्र मिश्रा और SO विनय तिवारी को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है. सूत्रों के मुताबिक, देवेंद्र मिश्रा और विनय तिवारी में पहले से ही अनबन चल रही थी.

*जुआ पकड़े जाने का घटना के बाद से बड़ी अनबन*

सूत्रों ने बताया है कि पांच महीने पहले चौबेपुर के जरारी गांव में तत्कालीन CO बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा ने लाखों रुपए का जुआ पकड़ा था. थानेदार विनय तिवारी के संरक्षण में ये जुआ चलता था. उन्हें इसके बदले में पैसा पहुंच रहा था.

बताया जा रहा है कि जुआ के खुलासे के बाद से ही दोनों के बीच तनातनी चल रही थी. देवेंद्र मिश्रा ने तत्कालीन SSP अनंत देव को भी इसकी रिपोर्ट भेजी थी.

इसके बाद से ही CO बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा और चौबेपुर SO विनय तिवारी की अनबन शुरू हुई थी. अब पुलिस महकमे की इस आपसी अनबन के तार कानपुर एनकाउंटर से जोड़े जा रहे हैं.

*48 घंटे से अधिक समय से फरार विकास दुबे*

गौरतलब है कि कानपुर में घात लगाकर आठ पुलिस कर्मियों की हत्या के बाद गैंगस्टर विकास दुबे को लापता हुए 48 घंटे से अधिक समय हो गया है. इसके बावजूद राज्य पुलिस के पास अभी भी उसके ठिकाने को लेकर कोई अहम सुराग नहीं है.

विकास, उसके साथियों और रिश्तेदारों के सभी फोन सर्विलांस पर लगाए गए हैं, लेकिन गैंगस्टर ने अब तक किसी भी संचार उपकरण का इस्तेमाल नहीं किया है.

योगी आदित्यनाथ की सरकार ने शनिवार रात को विकास पर इनाम को बढ़ाकर एक लाख रुपये कर दिया. साथ ही उसके 18 साथियों के लिए 25,000 रुपये के इनाम घोषित किए गए हैं.