ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
काम कुछ ऐसा करते रहो दुनिया में प्यारे -- कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
June 19, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • हास्य व्यंग/साहित्य

दौलत करोड़ों की कमा लिया है तुमने बेशक ! 

मगर जीवन में शांति नही तो व्यर्थ है सब कुछ !! 

*************************

यूं तो शांति और सुकून की तलाश रहती है सभी को ! 

मगर दौलत कमाने की होड़ में शांति मिलती नहीं किसी को !! 

*************************

काम कुछ ऐसा करते रहो दुनिया में प्यारे ! 

शांति और सुकून खुद ही आए तेरे दर पर !! 

*************************

शांति का संदेश पहुंचाना चाहते हो अगर दुनिया में ! 

लोभ , मोह , माया से रिश्ता सदा दूर का ही रखो !! 

*************************

दुनिया से अकड़ कर चलने में भला शायद हो कभी तुम्हारा ! 

धन दौलत जुटा लोगे बेशक मगर शांति तो मिलने वाली नहीं !! 

*************************

पास बैठोगे जो कभी आकर तुम मेरे ! 

मंत्र शांति का सीख जाओगे सरलता से !! 

***********************

अनमोल ज़िंदगी का अनमोल यह खजाना है ! 

एक लक्ष्य अपना बस जीवन में शांति पाना है !! 

************* तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु कवि व मंच संचालक अंबेडकरनगर उत्तर प्रदेश !