ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
गूगल ड्राइव का प्रयोग के बड़े है फायदे जानिए उपयोग का तरीका
July 11, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • विविध

इंटरनेट का इस्तेमाल करने वाले लोग गूगल को यूंही 'गूगल देवता' नहीं कहते हैं। एक से बढ़कर एक उपयोगी टूल्स गूगल द्वारा आपको मुफ्त में प्रदान की जाती है। 

शुरुआती यूजर्स के लिए जिनको एक लिमिट तक गूगल द्वारा दी गयी सुविधा का इस्तेमाल करना होता है उन्हें कुछ भी पे नहीं करना होता है। हां, वही जब आप एंटरप्राइज लेवल पर जाते हैं और उसके प्रोडक्ट का एक सीमा के बाद कमर्शियल इस्तेमाल करते हैं तो तो अवश्य कंपनी आपके सामने कई विकल्प रखती है।

 बहरहाल, आज हम गूगल की दूसरी सर्विसेज की बजाय इस आर्टिकल में सिर्फ गूगल ड्राइव की बात करेंगे। यह गूगल द्वारा दिया गया यह ऐसा उपहार है, जिसे गंभीरता से ऑनलाइन कार्य करने वाले व्यक्ति अमृत मानते हैं। साधारण भाषा में इसे आप अपने बैंक का लॉकर मान सकते हैं, जिसे इस्तेमाल करना बेहद आसान है तो इसकी सिक्योरिटी किसी लॉकर से कम नहीं है।

जैसा कि हम सबको पता है कि यह आपके जीमेल से जुड़ा हुआ रहता है जब भी आप जीमेल लॉग इन करते हैं, तो उसी लॉगइन की सहायता से आप जी ड्राइव भी एक्सेस कर सकते हैं।

गूगल ड्राइव में आप ना केवल अपनी मनचाही तस्वीरें, वीडियो या दूसरे जरूरी डॉक्यूमेंट अलग अलग फोल्डर वाइज रख सकते हैं, बल्कि आवश्यकता पड़ने पर आप लिंक शेयरिंग के माध्यम से किसी एक व्यक्ति या अधिक व्यक्तियों को पर्टिकुलर डॉक्यूमेंट का एक्सेस भी दे सकते हैं। अगर आप चाहते हैं कि बिना जीमेल का इस्तेमाल किए ही कोई आपके डॉक्यूमेंट को देखें या डाउनलोड कर सके तो इसका रास्ता भी इसमें मौजूद है। 

हालांकि, सिक्योरिटी के लिहाज से यह सिक्योर नहीं होता है। 

आइये शुरू से जानते हैं कि गूगल ड्राइव का इस्तेमाल आप किस प्रकार कर सकते हैं.... 

सर्वप्रथम आप कंप्यूटर में जीमेल लॉग इन करें और ब्राउज़र में दाहिनी ओर गूगल एप्स के कलेक्शन का आइकॉन दिखेगा. उसे क्लिक करते ही गूगल की तमाम सर्विसेज और प्रोडक्ट्स दिखने लगेंगे, जैसे गूगल कैलेंडर, यूट्यूब, गूगल कीप इत्यादि। इन्हीं आइकॉन में आपको ड्राइव का आइकॉन भी दिखेगा, जिसे आपको क्लिक करना है।

इसे आप डायरेक्ट इस लिंक से भी खोल सकते हैं: http://drive.google.com/

जैसे ही आप यह लिंक खोलेंगे आपको लेफ्ट साइड में ड्राइव के मेन्यू दिखने लगेंगे, जिसमें माय ड्राइव और शेयर्ड विद मी के अलावा कुछ और आइकॉन दिखेंगे. 

माय ड्राइव में आप अपने हिसाब से अलग-अलग फ़ोल्डर्स क्रियेट कर सकते हैं, जैसे आप अपने कंप्यूटर में करते हैं। कई लोग बिना सोचे-समझे फोल्डर और फाइल अनमैनेज ढंग से अपलोड कर देते हैं और बाद में कुछ ढूंढना हो तो परेशान हो जाते हैं। हालाँकि, इसमें सर्च आप्शन मौजूद है, लेकिन तकनीकी विशेषज्ञ यह सुझाव देते हैं कि आप अपनी ज़रूरत के अनुसार फोल्डर और सब-फोल्डर क्रिएट करें और उसके अनुरूप फाइल्स को ड्राइव में सहेजें।

शुरुआत से जितने बेहतर ढंग से आप फाइल्स को सहेजेंगे, उतनी ही कम उलझन आपको होगी और आप इसका इस्तेमाल करने के प्रति प्रेरित भी होंगे।

इसी प्रकार 'शेयर्ड विद मी' लिंक पर आपको उन फाइल्स / फ़ोल्डर्स का एक्सेस मिलता है, जो दूसरों ने आप के साथ शेयर किया होता है।

सामान्य तौर पर यहाँ फाइल्स बिखरी हुई होती हैं, किन्तु ख़ास बात यह है कि आप इन्हें भी सहेज सकते हैं।

इसके लिए आपसे शेयर की गयी फाइल्स पर राईट क्लिक करना होता है और वहां मौजूद तमाम ऑप्शन में Move to का इस्तेमाल करना होता है।

अगर यह कार्य नहीं करता है तो राईट क्लिक करने पर ही Add Shortcut to Drive का ऑप्शन आपको दिखता है। इसका इस्तेमाल आपको, आपसे शेयर की गयी फाइल्स को सहेजने में काफी मदद कर सकता है।

तीसरी जो सबसे महत्वपूर्ण चीज है, वह है फाइल शेयरिंग!

इसके लिए आपको थोड़ा सावधानी बरतने की ज़रुरत है और इसमें दिए गए ऑप्शन को ठीक से समझने की ज़रुरत है।

सबसे पहले आपको गूगल ड्राइव से जो फाइल शेयर करनी होती है, उस पर राईट क्लिक करना होता है। तत्पश्चात, दिए गए ऑप्शन में शेयर के आप्शन पर क्लिक कीजिये और आपके सामने एक पॉप-अप ओपन हो जायेगा, जिसमें लिखा रहेगा 'Share with people and groups'!

इसमें आप किसी भी व्यक्ति का ईमेल टाइप करके उससे न केवल फाइल शेयर कर सकते हैं, बल्कि उसे व्यूअर, कमेन्टर या एडिटर का राईट दे सकते हैं। यहाँ तक कि उसे उस पर्टिकुलर फाइल/फोल्डर का ओनर भी बना सकते हैं।

अगर आप ईमेल की बजाय लिंक शेयर करना चाहते हैं तो ठीक इसी पॉपअप में Get link का ऑप्शन आप देख पाएंगे। यहाँ पर ज़रुरत के अनुसार अपनी सेटिंग कर सकते हैं।

गूगल की दूसरी सर्विसेज के लिए भी आप गूगल ड्राइव का बेहतर इस्तेमाल कर सकते हैं।

जी हां! वह चाहे आपका गूगल डॉक्स हो, गूगल शीट्स हो, आप गूगल ड्राइव में पर्टिकुलर फोल्डर वाइज गूगल की इन सर्विसेस को भी मेंटेन कर सकते हैं और सुविधा अनुसार खुद उसका इस्तेमाल कर सकते हैं या दूसरे लोगों को सहूलियत के अनुसार एक्सेस दे सकते हैं।

क्लाउड स्टोरेज के लिए गूगल ड्राइव के अलावा मीडिया फायर, पीक्लाउड, माइक्रोसॉफ्ट की वन ड्राइव, सिंक, अमेजन ड्राइव, एप्पल का आई क्लाउड इत्यादि भी मौजूद हैं, लेकिन गूगल ड्राइव तो फिर गूगल ड्राइव ही है।

अगर आपने क्लाउड स्टोरेज के लिए गूगल ड्राइव का इस्तेमाल किया है या करने वाले हैं तो निश्चित रूप से यह आपको एक अमृत सी फीलिंग देगा और आप कह उठेंगे वाह 'गूगल ड्राइव' वाह!