ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
गौर में गोकशी रोकने के लिए भाजपा नेता रिंकू ने सीएम योगी से लगाई गुहार, एसओ पर लगाए आरोप
July 9, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • बस्ती मंडल

बस्ती। भाजपा नेता रिंकू दुबे और थानाध्यक्ष गौर अनिल दुबे का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। बीते दिनों भाजपा नेता रिंकू ने प्रभारी निरीक्षक के गोकशी में सम्मिलित होने की शिकायत आईजी आशुतोष कुमार से किया था। अभी तक विभाग के द्वारा एसओ पर कोई कार्रवाई न किए जाने से नाराज रिंकू दुबे ने उक्त मामले की शिकायत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से किया।

प्रेस को जारी विज्ञप्ति में भाजपा नेता रिंकू दुबे ने बताया कि मुख्यमंत्री को संबोधित पत्र में मैंने अवगत कराया कि थाना क्षेत्र गौर में गोकशी, अवैध वसूली एवं भ्रष्टाचार चरम पर है। जिससे समूचे क्षेत्र में सरकार और भारतीय जनता पार्टी की छवि धूमिल हो रही है। रिंकू ने बताया कि यहां तैनात प्रभारी निरीक्षक अनिल दुबे के द्वारा गोकशी का एक विशाल रैकेट चल रहा है। इसके अलावा फर्जी मुकदमा की विवेचना में जमकर वसूली हो रही है। दिनांक 28 जून को थानाध्यक्ष अनिल दुबे 3 दिन की छुट्टी पर थे, उनकी जगह पर दूसरे उपनिरीक्षक जगन्नाथ यादव थाने के चार्ज पर थे। उन्होंने क्षेत्र के करनपुर गांव से लगभग 100 किलो गौ मांस बरामद किया। भाजपा नेता ने कहा कि इससे यह स्पष्ट होता है कि प्रभारी निरीक्षक अनिल दुबे की मौजूदगी में लगातार कसाईयों को संरक्षण मिल रहा है।पत्र के माध्यम से दूबे ने कहा कि उनके द्वारा उक्त विषय की लिखित शिकायत आईजी आशुतोष कुमार को दिया गया। एसओ एवं बस्ती पुलिस के कुछ अधिकारियों की मिलीभगत से गोकशी का कार्य संपन्न हो रहा था। जिस पर आईजी ने जांच का आदेश दिया है, नगर अनिल दूबे के थानेदार रहते निष्पक्ष जांच सम्भव ही नही है,श्री दूबे ने कहा कि पुलिस यदि वास्तविक रूप में जांच कर गोकसी पर लगाम लगाना चाहती है तो सबसे पहले थानेदार को वहां से हटाए फिर जांच प्रक्रिया को आगे बढ़ाए,अन्यथा जांच का कोई मतलब नही होगा।

 मुख्यमंत्री जी से उक्त प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच करा कर दोषियों के विरुद्ध न्यायिक कार्यवाही कड़ी कार्यवाई का मांग किया है।