ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
गन्ना किसानों को वर्ष 2019-20 का गन्ना मूल्य एवं समितियों को गन्ना विकास अंशदान का भुगतान न किये जाने पर डीएम ने असंतोष व्यक्त कर शीघ्र भुगतान हेतु निर्देश दिए
June 5, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • बस्ती मंडल

बस्ती 05 जून 2020 सू०वि०, जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने गन्ना किसानों को वर्ष 2019-20 का गन्ना मूल्य एवं समितियों को गन्ना विकास अंशदान का भुगतान न किये जाने पर असंतोष व्यक्त किया है। कलेेक्ट्रेट सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने वस्तु स्थिति से शासन को अवगत कराने के लिए निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों का भुगतान न होने से उनमें असंतोष हो सकता है जो कानून व्यवस्था के लिए उचित नहीं होगा। 

     समीक्षा में उन्होंने पाया कि बजाज हिन्दुस्थान सुगर लि0 रूधौली पर गन्ना मूल्य 12 करोड़ तथा विकास अंशदान 2 करोड़ से अधिक बकाया है। बलरामपुर चीनी मिल बभनान पर 6 करोड़ 81 लाख गन्ना मूल्य तथा 1 करोड़ 67 लाख अंशदान बकाया है। उत्तर प्रदेश राज्य चीनी एवं गन्ना विकास मुण्डेरवा पर 6 करोड़ तथा अंशदान 2 करोड़ से अधिक बकाया है। 

    उन्होने चीनी मिल प्रबन्धकों को निर्देश दिया है कि गन्ना मूल्य एवं अंशदान के भुगतान के बारे में कार्ययोजना आगामी तीन दिनों में प्रस्तुत करेें। मुण्डेरवा चीनी मिल के प्रबन्धक ने बताया कि उनका खाता पंजाब नेशनल बैंक में है और वहाॅ से भुगतान में दिक्कत हो रही है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि यदि ऐसा है तो चीनी मिल अपना खाता किसी दूसरे बैंक में ट्रांसफर करें। 

      उल्लेखनीय है कि वर्ष 2019-20 में तीनों चीनी मिलों द्वारा कुल 119308 किसानो से गन्ना लिया गया तथा 78904 किसानों को उनके गन्ना मूल्य का भुगतान किया गया। कुल रू0 62974 के सापेक्ष 38489 रू0 गन्ना मूल्य का भुगतान किया गया है। इसमें सबसे कम भुगतान रूधौली चीनी मिल द्वारा किया गया है जो मात्र 9.23 प्रतिशत है। बभनान चीनी मिल द्वारा 83 प्रतिशत तथा मुण्डेरवा चीनी मिल द्वारा 54 प्रतिशत गन्ना मूल्य का भुगतान किया गया है।

     जिलाधिकारी ने समीक्षा में पाया कि गन्ना समितियों का आडिट समय से नहीं हो रहा है। वर्तमान समय में वर्ष 2004-05 का आडिट कराया जा रहा है। जिलाधिकारी ने इस पर असंतोष व्यक्त करते हुए निर्देश दिया है कि बैकलाॅग पूरा करने की कार्ययोजना समय सारिणी के साथ प्रस्तुत करें। गन्ना परिषदों का आडिट समय से हो रहा है। जिलाधिकारी ने समितियों में सेवानिवृत्त कर्मचारियों का भुगतान समय से करने का निर्देश दिया है। 

     जिलाधिकारी ने गन्ना किसानों एंव गन्ना विकास अंशदान का भुगतान न होने, समितियों का समय से आडिट न होने पर जिला गन्ना अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी का निर्देश दिया है। बैठक का संचालन जिला गन्ना अधिकारी रंजीत कुमार निराला ने किया। बैठक में एडीएम रमेश चन्द्र, चीनी मिलों के प्रबन्धक डाॅ0 आर.एन. त्रिपाठी, बृजेन्द्र द्विवेदी, डाॅ0 ए0के0त्रिपाठी, ए0के0एस0 बघेल, पी0के0 चतुर्वेदी, तहसीलदार पवन जायसवाल, चन्द्र भूषण प्रताप, प्रमोद कुमार, देवकी नन्दन, एसडीआई, सचिवगण उपस्थित रहे।  

------------