ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
देश में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 2 लाख से अधिक अबतक 5,815 मरीजों की मौत
June 3, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • राष्ट्रीय

देश में कोविड-19 संक्रमितों की संख्या 2 लाख के पार, अबतक 5,815 मरीजों की मौत

नयी दिल्ली। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे ज्यादा नए 8,909 मामले सामने आए हैं जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बुधवार को 2,07,615 तक पहुंच गई है। वहीं 217 लोगों की मौत के बाद मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 5,815 हो गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में 1,01,497 लोगों का उपचार चल रहा है और अब तक 1,00,302 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।वहीं एक व्यक्ति देश से बाहर जा चुका है।

मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि अब तक 48.31 फीसदी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि अमेरिका, ब्राजील, रूस, ब्रिटेन, स्पेन और इटली के बाद भारत अब कोरोना वायरस से बेहद प्रभावित देशों की सूची में सातवें स्थान पर है। अधिकारी ने बताया कि मंगलवार से अब तक 217 लोगों की मौत हुई है। उन्होंने बताया कि इनमें से सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में 103 लोगों की मौत हुयी है। इसके बाद राजधानी दिल्ली में 33, गुजरात में 29, तमिलनाडु में 13 और पश्चिम बंगाल में 10 लोगों की मौत हुई है। उन्होंने बताया कि मध्य प्रदेश में छह, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में पांच-पांच, तेलंगाना में चार, हरियाणा और जम्मू-कश्मीर में दो-दो, केरल, चंडीगढ़, लद्दाख, पंजाब और उत्तराखंड में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई। 

अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस के कारणदेश में अब तक 5,815 लोगों की मौत हो गई है। महाराष्ट्र में 2,465 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके बाद गुजरात में 1,092, दिल्ली में 556, मध्य प्रदेश में 364, पश्चिम बंगाल में 335, उत्तर प्रदेश में 222 और राजस्थान में 203 लोगों की मौत हो गई। तमिलनाडु में अब तक 197 लोगों की मौत हो चुकी है। तेलंगाना में 92 और आंध्र प्रदेश में 64,कर्नाटक में 52, पंजाब में 46, जम्मू-कश्मीर में 33, बिहार में 24, हरियाणा में 23, केरल में 11 तथा ओडिशा और उत्तराखंड में सात-सात लोगों की मौत हुई है। हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़ और झारखंड में कोविड-19 से पांच-पांच, असम में चार तथा मेघालय, छत्तीसगढ़ और लद्दाख में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई। मंत्रालय ने बताया कि मृतकों में से 70 फीसदी पहले से ही किसी अन्य बीमारी के शिकार थे।