ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
डेढ़ सौ कुंतल गेहू खरीदने हेतु सरकारी एजेंसी गांव में काटा वा ट्रक ले जाकर गेहू खरीदेंगी :- डीएम
June 3, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • बस्ती मंडल

बस्ती 03 जून 2020 सू०वि०, जिले में मोबाईल क्रय केन्द्रों के माध्यम से गेहॅू खरीद किए जाने के लिए जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने सभी क्रय एजेन्सियों को निर्देशित किया है। उन्होने कहा है कि जिस गाॅव में 150 कुन्तल गेहॅू की उपलब्धता होगी, वहाॅ काॅटा एवं ट्रक ले जाकर गेहॅू खरीद की जायेंगी। 

          उन्होने निर्देश दिया है कि मार्केटिंग स्पेक्टर कम गेहॅू खरीद वाले गाॅव में गेहॅू खरीद के लिए प्रयास करेंगे। इस कार्य में उनको लेखपाल, कृषि विभाग एवं मण्डी परिषद तथा सहकारिता विभाग के अधिकारी/कर्मचारी सहयोग करेंगे। 

          उन्होने सहकारिता विभाग को निर्देश दिया है कि गेहॅू खरीद के लक्ष्य का पुनः निर्धारण करे तथा सहायक विकास अधिकारी सहकारिता को नये लक्ष्य का आवंटन करें। आवश्यकतानुसार मोबाईल क्रय केन्द्र या उप केन्द्र खोलते हुए गेहॅू खरीद करें। 

         उन्होने बताया कि 84500 मीट्रिक टन लक्ष्य के सापेक्ष अभी तक 23908 मीट्रिक टन गेहॅू खरीद की गयी है, जो लक्ष्य का 28 प्रतिषत है। खाद्य विभाग के 17 केन्द्रों द्वारा 8326 मीट्रिक टन, पीसीएफ के 76 क्रय केन्द्र द्वारा 12271 मीट्रिक टन, यूपीपीसीयू के 11 क्रय केन्द्रों द्वारा 2865 मीट्रिक टन तथा भारतीय खाद्य निगम के 01 केन्द्र द्वारा 445 मीट्रिक टन गेहॅू खरीदा गया। 

                 गेहॅू खरीद लक्ष्य के अनुरूप न होने पर जिलाधिकारी ने सहायक निबन्धक सहकारिता, जिला प्रबन्धक पीसीएफ एवं पीसीयू को चेतावनी जारी किया है। जिला खाद्य विपणन अधिकारी गोरखनाथ तिवारी ने बताया कि प्रदेश के खाद्य आयुक्त द्वारा एजेन्सीवार दैनिक गेहॅू खरीद का लक्ष्य निर्धारित करते हुए गेहॅू खरीद करने का निर्देश दिया गया है। 

          उन्होने बताया कि खाद्य विभाग द्वारा 170 मीट्रिक टन, पीसीएफ द्वारा 760 मीट्रिक टन, पीसीयू द्वारा 110 मीट्रिक टन तथा भारतीय खाद्य निगम द्वारा 10 मीट्रिक टन गेहॅू प्रतिदिन खरीदा जायेंगा। पीसीएफ एवं पीसीयू द्वारा दैनिक क्रय लक्ष्य के सापेक्ष मात्र 50 प्रतिषत ही खरीद की जा रही है, जबकि कुल संचालित 105 क्रय केन्द्रों में से इन दोनों एजेन्सियों के द्वारा 87 केन्द्र संचालित किए जा रहे है। 

              शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता वाले कार्यक्रम गेहॅॅू खरीद में अपेक्षित प्रगति न होने तथा लक्ष्य के अनुरूप गेहॅू खरीद न किए जाने पर जिलाधिकारी ने तीनों अधिकारियों को चेतावनी जारी किया है। 

------------