ALL बस्ती मंडल उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय अर्थ जगत फिल्म/मनोरंजन/खेल/स्वास्थ्य अपराध हास्य व्यंग/साहित्य धर्म विविध
अंतर्राष्ट्रीय बाजार में क़ीमत बढ़ने से गैस सिलेंडर की कीमतों मे बढ़ोतरी,हवाई सफर भी होगा मंहगा
June 1, 2020 • डॉ पंकज कुमार सोनी • राष्ट्रीय

नयी दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में रसोई गैस के दाम बढ़ने के कारण देश में बिना सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर आज से महँगा हो गया है। देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली 14.2 किलोग्राम के बिना सब्सिडी वाले घरेलू रसोई गैस सिलेंडर का मूल्य जून महीने के लिए 593 रुपये तय किया गया है।

मई में इसकी कीमत 581.50 रुपये थी। इस प्रकार इसमें 11.50 रुपये की वृद्धि की गयी है। इससे पहले मई में कीमत में 162.50 रुपये की बड़ी कटौती की गयी थी। इंडियन ऑयल के बयान में कहा गया है “अंतर्राष्ट्रीय बाजार में जून महीने के लिए रसोई गैस की कीमत बढ़ी है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत में बढ़ोतरी के कारण दिल्ली में रसोई गैस का बाजार मूल्य प्रति सिलेंडर 11.50 रुपये बढ़ाया गया है।

हालाँकि इससे प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थी प्रभावित नहीं होंगे क्योंकि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 30 जून तक उन्हें मुफ्त सिलेंडर दिया जायेगा।” अन्य शहरों में भी घरेलू रसोई गैस सिलेंडर के दाम आज से बढ़ाये गये हैं। कोलकाता में यह 31.50 रुपये, मुंबई में 11.50 रुपये और चेन्नई में 37 रुपये महँगा हो गया है।

होटल, रेस्त्रां आदि में इस्तेमाल होने वाले 19 किलोग्राम के रसोई गैस सिलेंडर की कीमत सौ रुपये से अधिक बढ़ी है। दिल्ली में इसकी कीमत 110 रुपये बढ़कर 1,139.50 रुपये, कोलकाता में 107.50 रुपये बढ़कर 1,193.50 रुपये, मुंबई में 109.50 रुपये बढ़कर 1,087.50 रुपये और चेन्नई में 109.50 रुपये बढ़कर 1,254 रुपये हो गयी है।

तेल विपणन कंपनियों ने आज से विमान ईंधन की कीमतों में भारी बढ़ोतरी की है जिससे दो महीने के लॉकडाउन के कारण पहले से ही वित्तीय संकट का सामना कर रही एयरलाइंस की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं।

देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 01 जून से विमान ईंधन की कीमत 12,126.75 रुपये बढ़ाकर 33,575.37 रुपये प्रति किलोलीटर कर दी गयी है। इससे पहले 16 मई से 31 मई तक इसकी कीमत 21,448.62 रुपये प्रति किलोलीटर थी। इस प्रकार इसमें 56.54 प्रतिशत की भारी बढ़ोतरी की गयी है।